Hindi Quotes

ओशो के सर्वश्रेष्ठ विचार – Osho Quotes In Hindi

हम आपके लिए लाये हैं “Osho Quotes In Hindi” आशा करता हूँ की ये आपको जरूर पसंद आएँगी

Osho quotes in Hindi
Osho quotes in Hindi

 

जो विचार के गर्भाधान के विज्ञान को समझ लेता है वह उससे मुक्त होने का मार्ग सहज ही पा जाता है.


आपका स्वर्ग और आपकी ख़ुशी हमेशा कही ना कही होती ही है. ये कभी वहा नही मिलेंगी जहा आप हो. एक सच्ची ख़ुशी हमेशा ‘यहाँ’ होती है, और ‘अभी’ होती है.


सिर्फ आपके पाप ही आपको दुखी कर सकते है. जो आपको अपने आप से दूर ले जाने की कोशिश करते है, ऐसी चीजो को अनदेखा करना ही बेहतर होंगा.


श्रेष्टता से सोचने वाला हमेशा तुच्छ कहलाता है, क्योकि ये एक ही सिक्के के दो पहलु है.


आपका दिल ही आपका सबसे बड़ा शिक्षक है, आपको उसी की सुननी चाहिये. लेकिन जीवन की यात्रा में आपका अंतर्ज्ञान ही आपका शिक्षक होता है.


असली सवाल यह है की भीतर तुम क्या हो ? अगर भीतर गलत हो, तो तुम जो भी करगे, उससे गलत फलित होगा. अगर तुम भीतर सही हो, तो तुम जो भी करोगे, वह सही फलित होगा.


उत्सव मेरा धर्म है, प्रेम मेरा संदेश है, और मौन मेरा सत्य है।


आधे-अधूरे ज्ञान के साथ कभी आगे ना बढे. ऐसा करने पर आपको लगेंगा की आप अज्ञानी हो, और अंत तक अज्ञानी ही बने रहोंगे.


जिंदगी एक आइना है, जो हमारे ही चेहरे की प्रतिकृति दिखाता है. जिंदगी में हमेशा दोस्ती से रहे तब तभी आपके जीवन में मित्रता बनी रहेंगी.


जब तक आदमी सृजन की कला नहीं जानता तब तक अस्तित्व का अंश नहीं बनता.


तुमने पद, धन, यश, कीर्ति, प्रेम इन सबकी चेष्टाएँ की, बस एक ध्यान के दियें को जलाने की चेष्टा नहीं की, वही काम आएगा। मौत केवल उसी दियें को नहीं बुझा पाती।


सर्वाधिक आनंद उन्हें प्राप्त होता है, जो अकेले रहने की कला सिख जाते है।


वह इंसान जो अकेले रहकर भी खुश है असल में वही इंसान कहलाने योग्य है. यदि आपकी ख़ुशी दूसरो पर निर्भर करती है तो आप एक गुलाम हो. अभी आप पूरी तरह से मुक्त नही हुए हो अभी आप बंधन (गुलामी) में बंधे हो.


कर्म नहीं बांधते, करता बांध लेता है, कर्म नहीं छोड़ता है,करता छुट जाये तो छुटना हो जाता है.


जहाँ भय समाप्त हो जाता है वहाँ जीवन शुरू होता है।


यदि आप खुद अपनी कंपनी का आनंद नही लेते हो. तो कोई और उस से आनंदित कैसे हो सकता है?


प्रेम देना बहुत सुंदर अनुभव है क्योंकि देने में तुम सम्राट हो जाते हो।


दुखी कोई भी नहीं यहाँ, दुःख से घिरे रहना हमारा स्वभाव बन गया है। इस लिए दुःख है।


ठोकरें खा कर भी ना संभले तो मुसाफ़िर का नसीब, वरना पत्थरों ने तो अपना फर्ज़ निभा ही दिया था।


जीवन का कोई महत्त्व नही है. खुश रहो! फिर भी जीवन का कोई महत्त्व नही होंगा. नाचो, गाओ, झुमो! फिर भी जीवन का कोई महत्त्व नही होंगा. आपको विचारशील (Serious) बनने की जरुरत है. ये एक बहोत बड़ा मजाक होंगा.


सवाल यह नहीं है की मृत्यु के बाद जीवन मौजूद है या नहीं। असली सवाल यह है की आप मौत से पहले जीवित हैं या नहीं।


अनुभूति को दो शब्द देते ही विचार का जन्म हो जाता है. यह प्रतिक्रिया, यह शब्द देने की आदत अनुभूति को,दर्शन को विचार से आच्छादित कर देती है. अनुभूति दब जाती है, दर्शन दब जाता है और शब्द चित्त में तैरते रह जाते है.


समर्पण तो वह करता है, जो कहता है की मेरे पास तो कुछ भी नहीं है, मै तो कुछ भी नहीं हु – जो दावा कर सकू की मुझे मिलना चाहिए. मै तो सिर्फ प्रार्थना कर सकता हूं, मै तो सिर्फ चरणों में सिर रख सकता हूं,मेरे पास देने को कुछ भी नहीं है.


अगर जितना हो मन को, तो पहला नियम है कि लड़ना मत।


ध्यान सिर्फ एक वाहन है, बहिर्मुखी व्यक्ति अगर ध्यान में उतरे तो वह ब्रम्हा की यात्रा पर, कास्मिक जनी पर निकल जाएगा, जहा सारा अखण्ड जगत उसे अपना ही स्वरुप मालूम होने लगेगा. अगर अन्तर्मुखी व्यक्ति ध्यान के वाहन पर सवार हो तो अंतर यात्रा पर निकल जाएगा, शून्य में और शून्य में और महाशुन्य में जहा सब बबूले फुट कर मिट जाते है और अस्तित्व का महासागर ही शेष रह जाता है.


शुद्र का अर्थ है – प्रमादी. शुद्र का अर्थ है – सोया हुआ. शुद्र का अर्थ है – आलस्य, तमस से घिरा हुआ. शुद्र का अर्थ है – जो कुछ भी नही कर रहा है, न बाहर जा रहा है न भीतर जा रहा है,जो प्रमाद में, अंधेरे में सोया रह गया है.


आपका विवाह राजनितिक शासन करने का छोटा रूप है. जिसमे आपके माता और पिता छोटे राजनेता होते है.


अधिक से अधिक भोले, कम ज्ञानी और बच्चों की तरह बनिए। जीवन को मज़े के रूप में लीजिये क्योंकि वास्तविकता में यहीं जीवन है।


प्रेम करो। सबको प्रेम करो। और ध्यान रहे कि इससे बड़ा कोई भी संदेश न है, न हो सकता है।


जीवन एक उद्देशहीन खेल है, ये एक अनगिनत सेनाओ का खेल है – जो सुन्दर होंगा यदि आपके पास सफल इंसान का दिमाग ना हो तो और बदसूरत होंगा यदि आपके पास कुछ बनने की चाह हो तो.


जब मै ये कहता हु की तुम ही भगवान हो तुम ही देवी हो तो मेरा मतलब यह होता है की तुम्हारी संभावनाये अनंत है और तुम्हारी क्षमता भी अनंत है.


आत्महत्या आपको कही नही ले जाती. साधारणतः यह हमें हमारी चेतना (गर्भाशय) में छोटे रूप (स्तर) में ले जाती है. क्यू की आत्महत्या से ये साबित होता है की हम बड़े रूप (स्तर) में जीने के काबिल नही है.


आपके सारे विश्वास आपका दम घोटते चले जाते है (विकास रोकना) और सारे विश्वास आपको जिंदा भी नही रख सकते. आपका विश्वास ही आपके जीवन को मारता है.


अज्ञानी बने रहना अच्छा है, कम से कम अज्ञान तो इसमें आपका होता है. ये प्रामाणिक है, यही सच, वास्तविकता और इमानदारी है.


यहाँ कोई भी आपका सपना पूरा करने के लिए नहीं हैं। हर कोई अपनी तकदीर और अपनी हक़ीकत बनाने में लगा है।


ये शब्द ही विचार है.


स्वतंत्रता हमारा सबसे अनमोल खजाना है। कुछ के लिए यह मत खोना।


त्यागी कभी समर्पित नहीं होता, त्यागी आदमी कभी समर्पण नहीं करता वह कहता है की मेरे पास कारन है, मैंने इतना छोड़ा अब मुझे मिलना चाहिए.


कबीर ने कहा है कि तुम धोखा खा लो, लेकिन धोखा मत देना, क्योंकि धोखा खा लेने से कुछ भी नहीं खोता है। धोखा देने से सब कुछ खो जाता है।


ध्यान है तो सब है, ध्यान नहीं तो कुछ भी नहीं।


जीवन पर गुस्सा मत करो, यह जीवन नहीं जो आपको निराशा देता है, यह आप हैं जो जीवन की नहीं सुनते।


दुःख पर ध्यान दोगे तो हमेशा दुखी रहोगे, सुख पर ध्यान देना शुरू करो। क्योंकि तुम जिस पर ध्यान देते हो वह चीज सक्रिय हो जाती है। ध्यान सबसे बड़ी कुंजी है।


एक बच्चे को विशाल एकांतता की जरुरत होती है, उसे ज्यादा से ज्यादा एकांतता में रहने देना चाहिये, ताकि वह अपनेआप को विकसित कर सके.


दुःख भी तभी दुःख मालूम पड़ता है जब हम अस्वीकार करते हैं। दुःख में पीड़ा नहीं है, पीड़ा हमारे अस्वीकार में है कि ऐसा नहीं होना चाहिए था, और हुआ, इसलिए पीड़ा है।


अपने रिश्ते में हमेशा सुखद रहे, तन्हाई में हमेशा सतर्क रहे. ये दोनों बातो आपके लिए हमेशा मददगार साबित होंगी क्योकि ये बाते एक पक्षी के दो पंखो के समान है.


जिसको तुम अपने से छोटा मानते हो या अपने जैसा मानते हो उसके पैर छूने से अहंकार गिरेगा।


मुझे आज्ञाकारी लोगो जैसे अनुयायी नही चाहिये. मुझे बुद्धिमान दोस्त चाहिये, जो यात्रा के समय मेरे सहयोगी हो.


वह इंसान जो अकेले रहकर भी खुश है असल में वही इंसान कहलाने योग्य है. यदि आपकी ख़ुशी दूसरो पर निर्भर करती है तो आप एक गुलाम हो. अभी आप पूरी तरह से मुक्त नही हुए हो अभी आप बंधन (गुलामी) में बंधे हो.


मैं अपने संन्यासी को कहता हूँ, भागना मत। भागना भय है। और भय तो कायरता है। और कायर तो संसार भी नहीं पा सकता, सत्य को क्या खाक पाएगा।


प्रेम लक्ष्य है, जीवन यात्रा है।


यदि आप प्यार से रहते हो,


प्यार के साथ रहतो हो, तो आप एक महान जिंदगी जी रहे हो, क्योकि प्यार ही जिंदगी को महान बनाता है.


एक शराबी बने, जिसमे जीवन के अस्तित्व की शराब को पिए. कभी भी मासूम ना बने, क्योकि मासूम हमेशा मरे हुए होते है.


वह इंसान जो भरोसा करता है वह जिंदगी में आराम करता है. और वह इंसान जो भरोसा नही करता वह परेशान, डरा हुआ और कमजोर रहता है.

More Quotes for You:

Imp: I wish you loved “Osho Quotes In Hindi” If you want to read more like “Osho Quotes In Hindi” then please like our facebook page and subscribe to kamkibate.