Hardik Pandya Biography in Hindi – हार्दिक पांड्या की जीवनी

Hardik Pandya Biography in Hindi

80 के दशक के ऑलराउंडर और तेज गेंदबाज कपिल देव के बाद मनोज प्रभाकर ने तेज गेंदबाजी का जिम्मा संभाला और फिर 1999 में तहलका प्रकरण के बाद बीसीसीआई द्वारा वे बैन कर दिए गए. उसके बाद BCCI को एक तेज गेंदबाज की जरुरत थी. जिसके बाद 2004 में इरफान पठान आए और मध्यम तेज गेंदबाज और all rounder के रुप में उनसे काफी उम्मीदें बांधी गई. लेकिन वह ज्यादा दिन तक नहीं चल पाए और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम से बाहर हो गए और अब हार्दिक पांड्या के आने से क्रिकेट फैंस में उम्मीद की एक किरण जगी है.

सब उन्हे तेज गेंदबाज ऑलराउंडर के रूप में करते हुए देखना चाहते हैं और वह सब की उम्मीदों पर खरे उतरते भी नजर आ रहे हैं. हाल ही में हुए चैंपियन ट्रॉफी फाइनल मैच में भले ही पाकिस्तान ने भारत को शिकस्त दी हो लेकिन इस मैच में हार्दिक पांड्या के जज्बे ने लोगों के दिलों को जीत लिया. उनके बड़े भाई क्रुनाल पांड्या जो खुद भी एक क्रिकेट प्लेयर हैं वह उनके बारे में कहते हैं कि बचपन से ही उसमें गजब का कॉन्फिडेंस और प्रेशर में भी अच्छा खेलने की अद्भुत क्षमता है जिसके कारण वह कई क्लब क्रिकेट मैच को अपने दम पर जीता चुके हैं.

आइए जानते हैं उनके के जीवन के सफर के बारे में. हार्दिक पांड्या का जन्म 11 अक्टूबर 1993 को सूरत गुजरात में हुआ था. उनके पिता हिमांशु पांड्या कार फाइनेंस बिजनेस में थे. उनका एक बड़ा भाई भी हैं krunal pandya. बचपन से ही दोनों भाई क्रिकेट के बड़े जुनूनी रहे हैं. क्रिकेट को ही अपना करियर बनाने के उद्देश्य से ही पांड्या ने नौवीं क्लास के बाद ही पढ़ाई छोड़ दी थी. जिसके बाद उनके इस जूनून के खातिर उनके पिता सूरत में अपनी कार बिजनेस को छोड़कर बड़ौदा में शिफ्ट हो गए क्योंकि सूरत में क्रिकेट का कल्चर नहीं था और वह उन्होंने अपने दोनों बेटों को इंडिया के पूर्व क्रिकेटर किरण मौर्य के क्रिकेट एकेडमी भर्ती करा दिया. वहां हार्दिक के पिता इतना भी नहीं कमा पाते थे कि उनके परिवार को बच्चा भी अच्छे से चल सके. किरण मौर्य उनके पिता के कमजोर फाइनेंसियल स्थिति को अच्छी तरह जानते थे. वह दोनों भाइयों की बेहतरीन परफॉर्मेंस से काफी प्रभावित भी थे जिस कारण उन्होंने दोनों भाइयों की 3 साल की अकैडमी फीस को माफ कर दिया.

See also  “आयुष्मान खुराना की जीवनी”(Biography of Ayushmann Khurrana in Hindi)

शुरुआत में उन्होंने बड़ौदा की टीम के लिए खेलना शुरु किया और 2013 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी की ओपनिंग मैच ने इनकी जिंदगी बदल दी. उस मैच में बड़ौदा जल्द ही मात्र 20 रन पर 2 विकेट गवा चुका था. हार के कगार पर खड़ी बड़ौदा टीम को वे धुआंधार बल्लेबाजी से नॉट आउट 52 बोलों में 82 रन बनाकर जीता ले गए. उनकी इस परफॉरमेंस से मुंबई इंडियंस के कोच जॉन राइट इतने प्रभावित थे कि वह हार्दिक के दूसरे मैच को भी देखने गए जहां उन्हें हार्दिक ने निराश नहीं किया.

उसके बाद 2014 के सीजन में MI ने उन्हें घायल खिलाड़ियों के बैक अप के तौर पर प्रेक्टिस कैंप पर रखा और वहां उन्होंने मात्र 15 दिन में ही अपनी बैटिंग, बॉलिंग और फील्डिंग से सब को प्रभवित कर दिया. जिसके बाद उन्हें अगले आईपीएल सीजन के लिए मुंबई इंडियंस ने 10 lakh के base price पर खरीद लिया और अपने शानदार परफॉर्मेंस की बदोलत उन्होंने एक वन मैन आर्मी की तरह कई मैच जिताए जिसकी तारीफ अक्सर उनकी टीम कोच रिकी पोंटिंग किया करते थे.

उनकी काबिलियत को देखते हुए एक मुलाकात में सचिन ने कहा था कि तुम जल्द ही इंडियन टीम के लिए खेलोगे और आज वह इंडियन टीम के उभरते हुए सितारे के रूप में हम लोगों के सामने हैं. अब बात करते हैं उनके शुरूआती प्रदर्शन के बारे में जिनसे वे रातोरात फेमस हो गए थे.

IPL 2015 में उन्होंने चेन्नई सुपर किंग के खिलाफ 8 बॉल्स पर २१ रन बनाये और साथ ही 3 महत्वपूर्ण catch भी पकड़े. इस मैच में मुंबई इंडियंस को छह विकेट से जित मिली और हार्दिक पांड्या को मैन ऑफ द मैच का खीताब. इसके बाद केकेआर के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए हार्दिक ने 32 बॉल पर 61 रन बनाए और फिर से टीम को अपने बलबूते पर जीत दिलाई. साथ ही मैन ऑफ द मैच का खिताब फिर से अपने नाम किया. जिसके बाद Yes Bank Maximum Six Award अवार्ड भी दिया गया. फिर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 2016 मैच में इन्होने दो महत्वपूर्ण विकेट लिए और इसी मैच के द्वारा ही है ये इंडियन क्रिकेट टीम में शामिल हुए थे. हार्दिक पांड्या ने अभी केवल अपने करियर की शुरुआत की है लेकिन इनसे सभी क्रिकेट फैंस को बड़ी उम्मीदें हैं और इनके अंदर वह जुनून है जो इतिहास रचने की काबिलियत रखता है.

See also  “पूजा बत्रा की जीवनी” (Biography of Pooja Batra in Hindi)

अन्य लेख:

विश्वनाथन आनंद | Viswanathan Anand Biography In Hindi

Mahendar Singh Dhoni Biography In Hindi – महेंद्र सिंह धोनी जीवनी

Virat Kohli Biography in Hindi | विराट कोहली जीवनी

Cristiano Ronaldo Biography In Hindi | क्रिस्टियानो रोनाल्डो की सच्ची कहानी

Sachin Tendulkar Biography In Hindi | क्रिकेट के भगवान् की जीवनी