कहानियां

Motivational Stories in Hindi | Inspiring Short Stories

Inspiring Short Motivational Stories in Hindi

Hello friends this is the one of the best motivational stories in Hindi. This motivational stories based on the father and daughter stories, who want to kill his daughter. So please read this inspirational stories. If you feel happy after reading this motivational stories than also comment below in comment box and also share in your friends circle.


True Best Motivational Stories In Hindi 

दिल_को_छू_लेने_वाली_कहानी 💕💕

#नई_टीचर

लड़कियों के स्कूल में आने वाली नई टीचर बेहद खूबसूरत और शैक्षणिक तौर पर भी मजबूत थी लेकिन उसने अभी तक शादी नहीं की थी…
.
सब लड़कियां उसके इर्द-गिर्द जमा हो गईं और मज़ाक करने लगी कि मैडम आपने अभी तक शादी क्यों नहीं की…?
.
मैडम ने दास्तान कुछ यूं शुरू की- एक महिला की पांच बेटियां थीं, पति ने उसको धमकी दी कि अगर इस बार भी बेटी हुई तो उस बेटी को बाहर किसी सड़क या चौक पर फेंक आऊंगा, ईश्वर की मर्जी वो ही जाने कि छटी बार भी बेटी ही पैदा हुई और पति ने बेटी को उठाया और रात के अंधेरे में शहर के बीचों-बीच चौक पर रख आया, मां पूरी रात उस नन्हीं सी जान के लिए दुआ करती रही और बेटी को ईश्वर के सुपुर्द कर दिया।
.

  • Love status | Best True Romantic Love Status in Hindi
  • Short Motivational Stories With Moral | Positive Thinking Stories
  • Motivational Stories | Real Life Inspirational Stories


दूसरे दिन सुबह पिता जब चौक से गुजरा तो देखा कि कोई बच्ची को नहीं ले गया है, बाप बेटी को वापस घर लाया लेकिन दूसरी रात फिर बेटी को चौक पर रख आया लेकिन रोज़​ यही होता रहा, हर बार पिता बाहर रख आता और जब कोई लेकर नहीं जाता तो मजबूरन वापस उठा लाता, यहां तक कि उसका पिता थक गया और ईश्वर की मर्जी पर राज़ी हो गया।

फिर ईश्वर ने कुछ ऐसा किया कि एक साल बाद मां फिर पेट से हो गई और इस बार उनको बेटा हुआ, लेकिन कुछ ही दिन बाद बेटियों में से एक की मौत हो गई, यहां तक कि माँ पांच बार पेट से हुई और पांच बेटे हुए लेकिन हर बार उसकी बेटियों में से एक इस दुनियां से चली जाती ।

See also  मेहनत का फल हमेशा मीठा होता हैं

Real Life Inspirational Stories in Hindi

सिर्फ एक ही बेटी ज़िंदा बची और वो वही बेटी थी जिससे बाप जान छुड़ाना चाह रहा था, मां भी इस दुनियां से चली गई इधर पांच बेटे और एक बेटी सब बड़े हो गए।

.

टीचर ने कहा- पता है वो बेटी जो ज़िंदा रही कौन है ? “वो मैं हूं” और मैंने अभी तक शादी इसलिए नहीं की, कि मेरे पिता इतने बूढ़े हो गए हैं कि अपने हाथ से खाना भी नहीं खा सकते और कोई दूसरा नहीं जो उनकी सेवा करें। बस मैं ही उनकी खिदमत किया करती हूं और वो पांच बेटे कभी-कभी आकर पिता का हालचाल पूछ जाते हैं ।
.

पिता हमेशा शर्मिंदगी के साथ रो-रो कर मुझ से कहा करते हैं, मेरी प्यारी बेटी जो कुछ मैंने बचपन में तेरे साथ किया उसके लिए मुझे माफ करना।

[#एक_बेटी_के_सन्देश_को_हर_किसी_तक_पहूँचाना_है ]

#मेरा_पूरा_पोस्ट_पढ़ने_के_लिए_शुक्रिया

#इस_तरह_का_पोस्ट_पढ़ने_के_लिए_मुझे_फेंड_रिकवेस्ट_भेजे_या_सिर्फ_फौलो_भी_कर_सकते_हैं ।।

मैं हमेशा कुछ ना कुछ पोस्ट लेकर ही आऊँगा जो आपके दिल को छू जाएगा शुक्रिया आपका धन्यवाद दिल से आपका ..

The post Motivational Stories in Hindi | Inspiring Short Stories appeared first on Hindi Digital.

Related Articles

Back to top button