“कुलभूषण जाधव की जीवनी”(Biography of Kulbhushan Jadhav in Hindi)

कुलभूषण जाधव एक पाकिस्तान द्वारा गिरफ़्तार किये गए भारतीय नागरिक और पूर्व नौसेना अधिकारी हैं। पाकिस्तानी सरकार द्वारा यह आरोप लगाया गया है कि उसे बलूचिस्तान के पाकिस्तानी प्रांत में आतंकवाद और भारत की खुफिया एजेंसी, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पाकिस्तान का दावा है कि ये बलूचिस्तान में विध्वंसक गतिविधियों में शामिल रहे थे और ये भारत की ख़ुफ़िया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) के कर्मचारी हैं। भारत ने इनकी भारतीय नागरिकता और पूर्व नौसेना अधिकारी होने की ही पुष्टि की है। उसका ईरान में अपना व्यापार था। पाक फ़ौज ने एक वीडियो भी जारी किया था जिसमें इन्होंने अपने बारे में बयान देते हुए भी दिखाया गया। 10 अप्रैल 2017 में ,पाक फ़ौज की अदालत ने इन्हें जासूसी के आरोप में मौत की सज़ा सुनाई। 18 मई 2017 को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस ने मामले पर अंतिम फ़ैसले को लंबित रखा।

व्यक्तिगत जीवन:-

कुलभूषण जाधव का जन्म 16 अप्रैल 1970 को सांगली, महाराष्ट्र में हुआ था. उनके पिता का नाम सुधीर जाधव है, वह मुंबई पुलिस से सेवानिवृत्त सहायक आयुक्त है. उनकी माता का नाम अवन्ती जाधव है. उन्होंने अपनी शुरूआती पढाई मुंबई से पूर्ण की. 1987 में, उन्होंने नेशनल डिफेन्स अकैडमी में प्रवेश लिया और 1991 में भारतीय नौसेना में शामिल हुए। उसके बाद सेवा-निवृति के बाद ईरान में अपना व्यापार शुरू किया। अगर बात करे उनके वैवाहिक जीवन की तो वह विवाहित है और उनके दो बच्चे है.

पाकिस्तान द्वारा गिरफ्तारी और अपहरण:-

29 मार्च 2016 को, पाकिस्तान ने कुलभूषण को बलूचिस्तान से गिरफ़्तार बताया, वहीं भारत सरकार का दावा है कि इनका ईरान से अपहरण हुआ है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि जाधव एक भारतीय नौसेना अधिकारी थे जो समय से पहले सेवानिवृत्त हुए, लेकिन उनका सरकारी गतिविधियों के साथ कोई संबंध नहीं था। भारतीय उच्चायोग ने जाधव को भी कॉन्सूल पहुंच की मांग की है, लेकिन पाकिस्तान इससे सहमत नहीं है। भारतीय रिपोर्टो के अनुसार, कुलभूषण को पाकिस्तान की सेना ने ईरान-पाकिस्तान सीमा से अपहरण कर लिया था। भारतीय मीडिया के अनुसार, सुन्नी समूह जैश उल-एडीएल कुलभूषण के  अपहरण के लिए जिम्मेदार है। उनके आईएसआई द्वारा नकली दस्तावेज बनाए गए थे। पाकिस्तान ने कहा है की 2003 में, जाधव  एक नकली पासपोर्ट पर अंकित वीजा के साथ चबाहर में आये थे उन्हें 2003 में एल 9630722 के नाम से हुसैन मुबारक पटेल की नई पहचान मिली थी. उन्होंने कहा कि जाधव नौसेना से लड़ने की तकनीक में एक विशेषज्ञ थे। जाधव से पूछताछ के दौरान, उन्होंने बताया की हाजी बलूच के साथ शामिल थे. उन्होंने कराची में बलूच अलगाववादियों और आईएस नेटवर्क को वित्तीय और तर्कसंगत समर्थन प्रदान किया था। जाधव ने कहा कि उन्होंने बलूच से कई बार मुलाकात की थी और वह शेष सिंध में सांप्रदायिक हिंसा की योजना बना रहे थे। 2016 में, इस्लामाबाद ने जाधव की गिरफ्तारी के संबंध में राजनयिकों और आतंकवादी गतिविधियों में उनकी मौजूद की जानकारी दी। उनके सबूत भी संयुक्त राज्य अमेरिका और यूनाइटेड किंगडम के साथ साझा किये गए थे. पाकिस्तान के डीजी आईएसपीआर असीम बाजवा ने कहा कुलभूषण का उद्देश्य बलूच राष्ट्रवादी राजनीतिक दलों के बीच बेहिचकता पैदा करने के प्रचार के माध्यम से चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे को तोड़फोड़ करना था।

See also  Bruce Lee biography in Hindi | ब्रुस ली की जीवनी

इकबालिया बयान:-

पाकिस्तान ने एक विडियो जारी किया गया था जिसमे दिखाया गया की कुलभूषण जाधव ने “वीडियो कबूलनामे” में स्वीकार किया कि भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ पाकिस्तान को अस्थिर करने में शामिल थीं। और यह भी स्वीकार किया कि वह भारतीय नौसेना के एक अधिकारी थे और वे रॉ के कहने पर पाकिस्तान में काम कर रहे थे. बाजवा ने कहा, “पाकिस्तान में भारतीय हस्तक्षेप इससे स्पष्ट कोई प्रमाण नहीं हो सकता”, और कहा कि जाधव की गतिविधियां राज्य-प्रायोजित आतंकवाद से कम नहीं थीं.  वीडियो में, जाधव ने माना है कि उसने ईरान के चाबहार बंदरगाह से पाकिस्तान के खिलाफ एक गुप्त अभियान शुरू किया था, जिसके लिए वे अनुसंधान और विश्लेषण विंग के संयुक्त सचिव अनिल गुप्ता से निर्देश प्राप्त करते थे। उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि रॉ बलूचिस्तान विद्रोह के लिए बलूच अलगाववादियों को धन दे रहा था। वीडियो में, जाधव ने बताया कि वह 2013 से रॉ से निर्देशों पर कराची और बलूचिस्तान में विभिन्न गतिविधियों का निर्देशन कर रहे थे और कराची में बिगड़ती कानून और व्यवस्था की स्थिति में अपनी भूमिका कबूल कर चुके हैं। भारतीय सरकार ने  वीडियो कबुलनामे को अस्वीकार कर लिया है। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने दावा किया है की “यह पाकिस्तान द्वारा बनाया गया एक पूरी तरह नकली विडियो है। वे भारत को बदनाम करने के लिए कहानियां और ऐसे वीडियो बना रहे हैं। भारतीय अधिकारियों के अनुसार, जाधव का ईरान में कार्गो व्यवसाय था और वह बंदर अब्बास और चाबहार बंदरगाहों से बाहर काम कर रहा था। भारतीय अधिकारियों को संदेह है कि जाधव का ईरान-पाकिस्तान सीमा से जैश-उल-आदिल द्वारा अपहरण कर लिया गया था. भारतीय एजेंसियों ने दावा किया है कि पाकिस्तान द्वारा जारी किया गया वीडियो पूरी तरह से संपादित (एडिट) किया गया था और ऑडियो कई स्थानों पर काट कर दिखाया गया है।

See also  “मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या की जीवनी” (Biography of Mokshagundam Viswesvarayya in Hindi)

कुलभूषण को सज़ा:-

10 अप्रैल 2017 को, मजिस्ट्रेट और अदालत के सामने काबुलनामे के बाद, उन्हें  पाकिस्तान में फील्ड जनरल कोर्ट मार्शल (एफजीसीएम) ने मौत की सजा सुनाई। जाधव का मुकदमा साढ़े तीन महीने तक चला और  उन्हें भारत के लिए जासूसी, पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध, आतंकवाद को प्रायोजित करने और राज्य को अस्थिर करने के लिए दोषी ठहराया गया। 11 अप्रैल 2017 को भारत की संसद में जारी एक बयान में, भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा  कि जाधव को ईरान से पाकिस्तानी एजेंसियों ने अपहरण कर लिया था और एक रॉ एजेंट के रूप में ट्रायल पर रखा था। भारत के विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि जाधव के किसी भी तरह के ग़लत काम का कोई सबूत नहीं है।

जाधव की सज़ा पर रोक:-

पाकिस्तान में फांसी की सज़ा सुनाए जाने के मामले में भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में अपील की। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने इस मामले में पाकिस्तान से ये सुनिश्चित करने को कहा कि कुलभूषण सुधीर जाधव को सभी विकल्पों पर विचार करने से पहले फांसी न दी जाए। हालांकि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय की तरफ़ से इसकी पुष्टि नहीं हो सकी। पाकिस्तान की मीडिया में भी कहा गया कि भारतीय मीडिया कुलभूषण जाधव की फांसी रोके जाने की ख़बर को ग़लत रिपोर्ट कर रही है।

अन्य जानकारी:-

नामकुलभूषण सुधीर जाधव
व्यवसायनौसेना अधिकारी
आयु49 वर्ष (2019 के अनुसार)
ऊचाईज्ञात नही
भारज्ञात नही
बालो का रंगब्लेड
आँखों का रंगकाला
जन्मतिथि16 अप्रैल 1970
जन्मस्थानसांगली, महाराष्ट्र
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्महिन्दू
गृहनगरमुंबई, महाराष्ट्र
स्कूलज्ञात नही
विश्वविधालयज्ञात नही
शिक्षा योग्यताआई.एन.ए
पिता का नामसुधीर जाधव (मुंबई पुलिस में सेवानिवृत्त सहायक आयुक्त)
माता का नामअवन्ती जाधव
बहन का नामज्ञात नही
भाई का नामज्ञात नही
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पत्नी का नामज्ञात नही
बच्चेज्ञात नही
See also  “माही गिल की जीवनी” (Biography of Mahie Gill in Hindi)

मैने आपके साथ “कुलभूषण जाधव की जीवनी” साझा की है आपको यह पोस्ट कैसी लगी। कृपया हमे कमेंट करके जरूर बताये।