Hindi Quotes

Narendra Modi Quotes In Hindi | नरेन्द्र मोदी के प्रेरणादायक विचार

हम आपके लिए लाये हैं “Narendra Modi Quotes In Hindi” आशा करता हूँ की ये आपको जरूर पसंद आएँगी

Narendra Modi Quotes In Hindi
Narendra Modi Quotes In Hindi

मैं 07-10-2001 को सी.एम् नहीं बना। मैं हमेशा से सी.एम् था, मैं आज सी.एम् हूँ और हमेशा सी.एम् रहूँगा। मेरे लिए सी.एम् का मतलब चीफ मिनिस्टर नहीं बल्कि कॉमन मैन है।


फर्क थोड़ा सा है तेरे और मेरे इश्क़ में, तू माशूक की खातिर रात भर जागता है और मुझे मात्र भूमि के हालात सोने नहीं देते।


आईटी + आईटी = आईटी (IT+IT=IT); इंडियन टैलेंट + इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी = इंडिया टुमारो


राजनीति में कोई पूर्ण विराम नहीं होता।


विज्ञान और प्रौद्योगिकी में नरेन्द्र मोदी की गहरी दिलचस्पी है। उन्होंने गुजरात को ई-गवर्न्ड राज्य बना दिया है और प्रौद्योगिकी के कई नवोन्मेषी प्रयोग सुनिश्चित किये हैं।


नरेन्द्र मोदी को शिक्षा-व्यवस्था में पूरा विश्वास है। एक ऐसी शिक्षा-व्यवस्था जो मनुष्य के आंतरिक विकास और उन्नति का माध्यम बने एवं समाज को अँधेरे, मायूसी और ग़रीबी के विषचक्र से मुक्ति दिलाये।


कड़ी मेहनत कभी थकान नहीं लाती, वह तो संतोष लाती है।


पश्चिमी लोगों ने भारतीयों के प्रति एक गलत धारणा बना राखी है हम पेड़ों की पूजा करते हैं व हम पेड़ों को देवी-देवता का नाम देते हैं और फिर भी उन्हें काट देते हैं। इसी तरह हिन्दू देवता किसी न किसी जानवर, पक्षी या पेड़ से सम्बंधित होते हैं। ये सब उनका सम्मान करना सीखाता है।


दीपक की लौ के समान ऊपर उठना हममें से हर एक की स्वाभाविक वृत्ति है; चलिए इस वृत्ति का पोषण करें।


काम करने का कोई अवसर मिलना मेरे लिए सौभाग्य की बात है. मैं उसमे अपनी आत्मा दाल देता हूँ . ऐसा हर एक अवसर अगले का द्वार खोल देता है।


मुझे देश के लिए मरने का अवसर नहीं मिला है, लेकिन मुझे देश के लिए जीने का अवसर मिल गया है।


श्रम की गरिमा एक ऐसा विषय है, जो ऑस्ट्रेलिया से सीखना चाहिए।


वह लूट रहे हैं सपनो को, मैं चैन से कैसे सो जाऊं, वह बेच रहे हैं भारत को, खामोश मैं कैसे हो जाऊं।


मेरे लिए राजनीति महत्वाकांक्षा नहीं है, बल्कि एक मिशन है।


राहुल का भाषण लोगों के मनोरंजन के लिए अच्छा है।


हम वादे नहीं इरादे लेकर आये है !


बचपन से ही मोदी में देश भक्ति (Patriotism) कूट कूट कर भरी थी। 1962 में भारत चीन युद्ध के दौरान मोदी रेलवे स्टेशन पर जवानों से भरी ट्रेन में उनके लिए खाना और चाय लेकर जाते थे।


लड़की पैदा होने पे पाँच पेड़ लगाकर अपनी खुशी का इज़हार करो।


मैं खेल को सिर्फ शरीर तंदुरुस्त करने के तरीके के रूप में नहीं देखता। मैं इसे शिक्षा के उपकरण के रूप में देखता हूँ जो मन को प्रोत्साहन देता है और अनुशासन को बढ़ावा देता है।


1972 में मोदी आर.एस.एस. (R.S.S.) के प्रचारक बन गए और अपना सारा समय आर.एस.एस. (R.S.S.) को देने लगे।


जो निरंतर चलते रहते हैं वही बदले में मीठा फल पाते है। सूरज की अटलता को देखो- गतिशील और लगातार चलने वाला , कभी ठहरता नहीं, इसलिए बढ़ते चलो।


अगर 125 करोड़ भारतीय एकता, शांति और सदभाव के मंत्र के साथ कंधे से कंधा मिला कर एक कदम बढ़ाएं तो देश एक बार में 125 करोड़ कदम आगे बढ़ जाएगा।


मोदी एक फिट नेता है एंव वे इतनी ज्यादा मेहनत करने के बावजूद कभी भी थके हुए नहीं लगते। वे हमेशा आत्मविश्वास (Confidence) से भरे हुए रहते है एंव उनका Energy Level कभी कम नहीं होता।


मेरे लिए पूरा गुजरात एस ई जेड है – स्पिरिचुऐलिटी, एंटरप्राइज एंड जील।


भारत एक बार फिर से विश्वगुरु की भुमिका अदा करने के लिए और मानवता की भलाई के लिए काम करने को तैयार है।


उनका एजेंडा मोदी है, बीजेपी का एजेंडा भारत है।


एक समाज, एक सपना, एक संकल्पश, एक दिशा, एक मंजिल इस बात को ले करके हम आगे बढ़े।


माना की अंधेरा घना है, लेकिन दिया जलाना कहाँ मना है।


जब हम कहते हैं कि हमारे प्रधानमंत्री कमजोर हैं, तब हम उसकी शारीरिक योग्यता के बारे में बात नहीं कर रहे होते हैं, बल्कि हमारा मतलब होता है कि जिस पद पर वो बैठे हैं उसकी गरिमा कम हो गयी है। जिस कार्यालय में वो बैठते हैं, प्रधानमंत्री कार्यालय उसे सबसे ताकतवर माना जाता है, एक सशक्त कार्यालय, लेकिन इस कार्यालय की शक्ति दिखाई नहीं देती।


कड़ी मेहनत कभी थकान नहीं लाती, वह संतोष लाती है।


केवल गाँधी परिवार – सोनिया, राहुल और प्रियंका – सिंह जी को एक सफल प्रधानमंत्री बताते रहे हैं। वह एक असफल प्रधानमन्त्री हैं।


मेरे जीवन में मिशन सबकुछ है। एम्बिशन कुछ भी नहीं। यदि मैं नगर निगम का भी अध्यक्ष होता तो भी उतनी ही मेहनत से काम करता जितना C.M होते हुए करता हूँ।


काम को ही महत्वाकांक्षा बन जाने दीजिये।


नाग पंचमी का पर्व इसलिए बनाया गया था क्योंकि सांप मानसून में बाहर निकलते हैं। जो इनसे डरते है वे इन्हें जान से मार सकते हैं इसलिए साँपों की पूजा करने की परंपरा शुरू की गयी थी ताकि कोई उन्हें मार न सके।


हमारा लक्ष्य भारत के विकास के लिए गुजरात का विकास है।


मेरे लिए धर्म काम के प्रति निष्ठा है और निष्ठापूर्वक काम करना धार्मिक होना है।


ये देश हिंसा को कभी सहन नहीं करेगा, ये देश आतंकवाद को कभी सहन नहीं करेगा, ये देश आतंकवाद के सामने कभी झुकेगा नहीं, माओवाद के सामने कभी झुका नहीं।


मैंने चाय बेची है, लेकिन कभी अपना देश नहीं बेचा।


डरते वो हैं जो अपनी छवि के लिए मरते हैं, मैं तो हिंदुस्तान की छवि के लिए मरता हूँ, इसीलिए किसी से नहीं डरता हूँ।


इच्छा + स्थिरता = संकल्प और संकल्प + कड़ी मेहनत = सफलता


नरेन्द्र मोदी की छवि एक कठोर प्रशासक और कड़े अनुशासन के आग्रही की मानी जाती है, लेकिन साथ ही अपने भीतर वे मृदुता एवं सामर्थ्य की अपार क्षमता भी संजोये हुए हैं।


राजवंश लोकतंत्र का दुश्मन है।


मैं भारत की जनता से वादा करता हूँ कि अगर नागरिक 12 घंटे काम में देते हैं तो मैं नरेन्द्र मोदी 13 घंटे काम करूँगा अगर नागरिक 14 घंटे काम में देंगे तो मैं 15 घंटे काम करूँगा क्यूंकि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं हूँ मैं प्रधान सेवक नरेन्द्र मोदी हूँ।


गरीबी से लड़ेंगे तो हम तबाही से निकलकर के समृद्धि की ओर चल पड़ेंगे और इसलिए मैं सभी पड़ोसियों को गरीबी से लड़ने के लिए निमंत्रण देता हूं।


कुछ नेता मेरे खिलाफ कहानिया गढ़ रहे हैं। तुमने मेरी सेवाएं लीं और अब मुझे किनारे करना चाहते हो। यह बिलकुल अनुचित और अस्वीकार्य है।


हम किसी व्यक्ति की सनक के हिसाब से सरकार नहीं चलाते, हमारा विकास सुधारों द्वारा संचालित है, हमारे सुधार नीति द्वारा संचालित हैं और हमारी नीतियां लोगों द्वारा संचालित हैं।


हममें से हर किसी के अन्दर अच्छे और बुरे दोनों गुण होते हैं . जो अच्छों पर ध्यान केन्द्रित करने का निर्णय लेते हैं वो जीवन में सफल होते हैं।


Narendra Modi ने पड़ोसी देशों से भी काफी अच्छे संबंध बनाए। मोदी ने जन धन योजना (Jan Dhan Yojna), स्वच्छ भारत अभियान (Clean India Campaign), मेक इन इंडिया (Make in India) और डिजिटल इंडिया (Digital India) जैसी कई योजनाओं की शुरुआत की जिससे India में काफी विकास (Development) हो रहा है


हिंदुस्तान में जबतक हम कठोर कानून नहीं बनाते, तब तक हम आतंकवाद को रोकने में सफल नहीं होंगे।


मैं प्रधानमंत्री के रूप में नहीं प्रधानसेवक के रूप में आपके बीच उपस्थित हूँ।


मन कभी समस्या नहीं है; मानसिकता है।


Narendra Modi जहाँ भी जाते है वहां के हो जाते है। Narendra Modi जहाँ भी जाते है वहां की बात करते है।


मैं नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) उन माता पिता से सवाल करना चाहता हूँ जो अपने 11 अथवा 14 वर्ष की बच्ची पर लगाम लगाते हैं। जबकि माता पिता को अपने लड़के से पूछना चाहिए वे कहाँ जा रहे हैं किससे मिल रहे हैं ? क्यूंकि बलात्कारी भी किसी की संतान हैं माता पिता का कर्तव्य हैं कि वो आशवासित रहे कि उनका बेटा किसी गलत दिशा में नहीं बढ़ रहा हैं।


जो बच्चे मुश्किल से मां, पापा कह पाते हैं, वे अबकी बार मोदी सरकार कह रहे हैं। यह लोकतंत्र की शक्ति है।


मैं नरेन्द्र मोदी एक गरीब परिवार से हूँ और उसी रूप में गरिमा प्राप्त करना चाहता हूँ। हम एक स्वच्छ भारत का अभियान शुरू करना चाहते हैं। यदि हम एक स्वच्छ राष्ट्र का निर्माण करना चाहते हैं तो चलिए हम गाँव से इसकी शुरुवात करें।


जब कभी कोई और खिलाड़ी कम रन बना कर आउट होता है तो लोग दुखी नहीं होते, लेकिन सचिन तेंदुलकर यदि 90 रन पर भी आउट होता है तो उसकी आलोचना होती है क्योंकि लोग उसका आंकलन एक अलग स्तर पर करते हैं। मैं खुश हूँ कि मुझे भी उम्मीदों के पैमाने पर आँका गया है, न कि यश-अपयश के पैमाने पर।


युवावस्था में मोदी पर स्वामी विवेकानंद का बहुत गहरा प्रभाव पड़ा। उन्होंने स्वामी जी के कार्यों का गहराई से अध्ययन किया जिसने उन्हें जीवन के रहस्यों की खोज की तरफ आकर्षित किया और उनमें त्याग और देश भक्ति (Patriotism) की भावनाओं को नई उड़ान दी।


सरकार वो होती है जो गरीब की आवाज सुनती है, सरकार को गरीब के लिए जीना चाहिए।


भारत के पास अगर लाखों समस्याएं हैं तो सवा सौ करोड़ मस्तिष्क भी हैं जो समस्याओं का समाधान करने का सामर्थ्य भी रखते हैं।


हमारा मन्त्र है : सबका साथ सबका विकास।


कांग्रेस और करप्शन जुड़वाँ बहने हैं।


मेरे लिए पूरा गुजरात एस ई जेड है – स्पिरिचुऐलिटी , एंटरप्राइज एंड जील।


वक़्त कम है जितना दम है लगा दो, कुछ लोगो को मैं जगाता हूँ, कुछ लोगो को तुम जगा दो।


हर एक नीति (Policy) के लिए उनके पास एक मिसाल (Example) है। मेरी दादी (Grandmother) ने ये किया, मेरे पिता ने वो किया और मेरे पर-दादा ने कुछ और किया। क्या ऐसे ही आप देश चलाते हैं?


सबका साथ, सबका विकास (SABAKA SATH, SABAKA VIKAS).


वेद से विवेकानंद तक, उपनिषद् से उपग्रह तक, सुदर्शन चक्रधारी मोहन से ले करके चरखाधारी मोहन तक, महाभारत के भीम से ले करके भीमराव तक, एक हमारी लम्बीो इतिहास की यात्रा है, विरासत है।


जातिवाद का ज़हर समाज को तोड़ता है, किसी जाति का गौरव होना कोई बुरी चीज़ नहीं है क्योंकि ये कभी-कभी ताकत देती है।


भाजपा विरोधी ताकतों का एक ही एजेंडा है- मोदी रोको।


मेरे राज्य मे लाल फीताशाही नहीं है सिर्फ लाल कालीन है।


मेरे जीवन में मिशन (Mission) सबकुछ है, एम्बिशन (Ambition) कुछ भी नहीं … यदि मैं नगर निगम का भी अध्यक्ष होता तो भी उतनी ही मेहनत से काम करता जितना C.M. होते हुए करता हूँ।


मुझे देश के लिए मरने का कोई अवसर नहीं मिला, लेकिन मुझे देश के लिए जीने का मौका मिला है।


साल की उम्र में मोदी ने घर छोड़ दिया और अपनी आध्यात्मिक यात्रा (Spiritual journey) शुरू की।


जो निरंतर चलते रहते हैं वही बदले में मीठा फल पाते हैं। सूरज की अटलता को देखो – गतिशील और लगातार चलने वाला, कभी ठहरता नहीं, इसलिए बढ़ते चलो।


Narendra Modi ने 1990 में आडवाणी की अयोध्या रथ यात्रा का भव्य आयोजन किया जिससे भाजपा (B.J.P.) के वरिष्ठ नेता काफी प्रभावित हुए। उनके अद्भुत कार्य की बदौलत भाजपा (B.J.P.) में उनका कद बढ़ता रहा।


भारत को सपेरों के देश के नाम से जाना जाता था और आज हमारे देश के आईटी पेशवरों ने दुनियाँ को मंत्रमुग्ध कर दिया हैं कहने का तात्पर्य यह हैं कि सपेरे जिस तरह सांप को अपने तरफ आकर्षित करता हैं उसी तरह आईटी पेशेवरों ने पूरी दुनियाँ को किया हैं।


मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूँ कि गुजरात में बनी ट्रेन दिल्ली में भारी चिंता का विषय बन सकती है।


लोकतंत्र में जनता का फैसला अंतिम होता हैं जिसे हम सभी को सहर्ष स्वीकार करना चाहिए।


समाज की सेवा करने का अवसर हमें अपना ऋण चुकाने का मौका देता

More Quotes for You:

Imp: I wish you loved “Narendra Modi Quotes In Hindi” If you want to read more like “Narendra Modi Quotes In Hindi” then please like our facebook page and subscribe to kamkibate.