Jack Ma Biography In Hindi

Jack Ma Biography In Hindi | Alibaba Success Story

 

Jack Ma Biography In Hindi
Jack Ma Biography In Hindi

हारने वाले हमेशा असफलता के डर के बारे में सोचते हैं लेकिन जीतने वाले हमेशा सफलता के पुरस्कारों के बारे में सोचते हैं। हम आज आपको Alibaba।com के फाउंडर और इस समय चीन के सबसे धनी व्यक्ति jack Ma की सफलता की कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं।

वे दुनिया के सफलतम एंटरप्रेन्योर में से एक है उनकी कुल संपत्ति 20 मिलियन डॉलर आंकी गई है। Jack Ma ने यह सफलता इतनी आसानी से नहीं पाई है। उनके संघर्षो को अगर आप जानेंगे तो आश्चर्य करेंगे की इतनी असफलताओं के बाद भी कोई आदमी कैसे आगे बढ़ते रहने की सोच सकता है।

Jack Ma का जन्म 10 सितंबर 1964 को चीन के एक छोटे से गांव में हुआ था। जब वे 13 साल के थे तभी उन्होंने इंग्लिश सीखना शुरु कर दिया था। ऐसा चीन में बहुत ही कम लोग करते हैं क्योंकि उस समय चीन की प्रमुख भाषा चीनी थी और इंग्लिश सीखना इतना जरूरी नहीं माना जाता। इंग्लिश सीखने के लिए उन्होंने शिक्षा का सहारा नहीं लिया बल्कि वह टूरिस्ट गाइड बन गए और टूरिस्ट को घुमाने के दौरान वह उनसे इंग्लिश में बात करने की कोशिश करके थे। उन्होंने यह काम करीब 9 साल तक किया जिससे उन्हें इंग्लिश का अच्छा नॉलेज हो गया।

Jack Ma का वास्तविक नाम Ma Yun है इन विदेशियों को गाइड करते-करते एक विदेशी व्यक्ति से उनकी गहरी दोस्ती हो गई थी जो उन्हें पत्र लिखा करता था। उसी विदेशी मित्र ने उन्हें Jack नाम दिया क्योंकि चीनी में उनका नाम बोलना और लिखना बहुत ही कठिन लगता था। तभी से Ma Yun से Jack Ma के नाम से जाने जाना लगा। जैक का पढ़ाई में बिल्कुल भी मन नहीं लगता था इसलिए वह 4th क्लास में दो बार और 8th क्लास में तीन बार फेल हो गए। कैसे भी करके यह सभी एग्जाम पास किए तो ग्रेजुएशन के एंट्रेंस एग्जाम में उन्हें 5 बार असफलता मिली। उसके बाद Jack ने बहुत ही बहुत ही खराब माने जाने वाले कॉलेज में एडमिशन ले लिया। वहां से 1988 में उन्होंने अंग्रेजी में ग्रेजुएशन के एग्जाम पास किया।

See also  Robert Downey Jr. Biography In Hindi | Drug Addiction

जैक मा के करियर का शुरुआत बहुत ही असफलताओं से भरा हुआ था। उन्होंने 30 अलग-अलग जगहों पर नौकरियों में आवेदन किए लेकिन हर बार उन्हें निराशा ही हाथ लगी। इसी बीच वह एक बार KFC में भी नौकरी के लिए गए। उस समय KFC चीन में पहली बार आया था। तब वहां पर 24 लोगों ने नौकरी के लिए अप्लाई किया जिसमें से 23 लोग सेलेक्ट हो गए लेकिन एक मात्र Jack का चयन नहीं हुआ। शुरू से ही इंग्लिश अच्छी होने के कारण बाद में उन्हें एक कॉलेज में एक लेक्चरर रख लिया गया। उसके बाद उन्होंने कुछ दिनों तक ट्रांसलेटर का काम किया। 1995 के शुरुआत में वह अपने दोस्त से मिलने अमेरिका गए जहां उन्होंने पहली बार इंटरनेट देखा। Jack ने इससे पहले कभी इंटरनेट नहीं चलाया था। Jack ने जब पहली बार इंटरनेट चलाया उन्होंने bear शब्द को खोजा। उन्हें bear से संबंधित बहुत सी जानकारियां अलग-अलग देशों से प्राप्त हुई लेकिन वह यह देखकर चौंक गए की उस सर्च में चीन का नाम कहीं पर भी नहीं था। फिर वह चीन के बारे में सामान्य जानकारी जुटाने में जुट गए और उन्होंने पाया की चीन की कोई सामान्य जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध नहीं है।

Jack को इंटरनेट में बहुत अच्छा फ्यूचर दिखाई दे रहा था। इसके बाद jack ने इंटरनेट से ही जुदा हुआ कोई काम करने का सोचा। उन्होंने थोड़ा और रिसर्च किया और फिर अपने देश के छोटे बड़े व्यवसाय को इंटरनेट से जुड़ने के लिए अपने फ्रेंड के साथ मिलकर एक वेबसाइट बनाई जिसका नाम चाइना येलो पेज था। idea अच्छा होने के बावजूद उन्हें चीन में इसके लिए फंडिंग नहीं मिल पाई जिसके कारण उन्हें इसको भी बंद करना पड़ा। इतनी असफलताओं के बाद तो शायद ही कोई होगा जो आगे कुछ और करना चाहेगा लेकिन नहीं jack ने अपनी पुरानी कमियों को ध्यान में रखते हुए अपनी वाइफ और 20 लोगों के साथ मिलकर उसी idea के साथ नया वेबसाइट बनाया। उसका नाम Alibaba।com था। इसमें भी शुरुआत में थोड़ी सी प्रॉब्लम झेलनी पड़ी लेकिन फिर सॉफ्टबैंक से एक बड़े निवेश के साथ इस कंपनी ने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा और देखते ही देखते दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी ई-कॉमर्स कंपनी e-bay को अगले 4 सालों के अंदर अपने ही देश से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

See also  एलिज़ाबेथ द्वितीय की जीवनी Biography of Elizabeth II

Jack Ma आज दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में आते हैं। उनकी कुल संपत्ति 20 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा है। अलीबाबा का नेटवर्क Facebook से भी कहीं ज्यादा है और जितना ज्यादा कमाई अमेजॉन और र्इबे मिलकर करती है उससे कहीं ज्यादा jack की कंपनी अकेले करती है।

हमें असफलताओं से घबराना नहीं चाहिए बल्कि उसका समझदारी से मुकाबला करना चाहिए क्योंकि वक्त हमेशा एक सा नहीं होता। अगर आपकी जिंदगी में अभी असफलता है तो इंतजार करिए सफलता की किरण आपकी जिंदगी को भी रोशन करेगी। किसी काम में असफलता मिलने पर हताश ना हो। असफलता तो आपको ज्यादा समझदारी से उसी काम को दोबारा करने का मौका देती है।

अन्य उपयोगी लेख: