Jahan Daal Daal Par Sone Ki Chidiyan Lyrics – जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां

Jahan Daal Daal Par Sone Ki Chidiyan Lyrics

Jahan Daal Daal Par Sone Ki Chidiyan Lyrics in Hindi – जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां

फिल्म – सिकंदर-ए-आज़म (1965)
संगीत – हंसराज बहल
गीतकार – राजिंदर कृषण
गायक – मो.रफ़ी


जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा
जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा

जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का पग-पग लगता डेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा
जय भारती…4

ये धरती वो जहाँ ऋषि मुनि जपते प्रभु नाम की माला
हरी ॐ हरी ॐ हरी ॐ हरी ॐ
जहाँ हर बालक इक मोहन है और राधा इक-इक बाला
और राधा इक-इक बाला
जहाँ सूरज सबसे पहले आ कर डाले अपना फेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा…

जहाँ गंगा, जमुना, कृष्ण और कावेरी बहती जाए
जहाँ उत्तर, दक्षिण, पूरब, पश्चिम को अमृत पिलवाये
ये अमृत पिलवाये
कहीं ये जल, फल और फूल उगाये, केसर कहीं बिखेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा

अलबेलों की इस धरती के त्योहार भी हैं अलबेले
कहीं दीवाली की जगमग है, होली के कहीं मेले
होली के कहीं मेले

https://desibabu.in/wp-admin/options-general.php?page=ad-inserter.php#tab-2
जहाँ राग-रंग और हँसी-खुशी का चारों ओर है घेरा

वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा

जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा

जहाँ आसमान से बातें करते मंदिर और शिवाले
किसी नगर मे किसी द्वार पर कोई न ताला डाले
और प्रेम की बंसी जहाँ बजाता आये शाम सवेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा

जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का पग-पग लगता डेरा
वो भारत देश है मेरा, वो भारत देश है मेरा
जय भारती…4


Jahan Daal Daal Par Sone Ki Chidiyan Song Lyrics

 

Jahaan Daal-Daal Par Sone Ki Chidiyaan Karati Hai Basera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera
Jahaan Daal-Daal Par Sone Ki Chidiyaan Karati Hai Basera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera

Jahaan Saty, Ahinsa Aur Dharm Ka Pag-Pag Lagata Dera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera
Jay Bhaarati..4

Ye Dharati Wo Jahaan Rishi Muni Japate Prabhu Naam Ki Maala
Jahaan Har Baalak Ik Mohan Hai Aur Raadha Ik Ik Baala
Aur Raadha Ik Ik Baala
Jahaan Suraj Sabase Pahale Aakar Daale Apana Fera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera

Jahaan Ganga, Jamuna, Krishna Aur Kaaweri Bahati Jaaye
Jahaan Uttar, Dakshin, Purab, Pashchim Ko Amrit Pilawaaye
Ye Amrit Pilawaaye
Kahin Ye Jal Fal Aur Ful Ugaaye, Kesar Kahin Bikhera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera

Alabelon Ki Is Dharati Ke Tyohaar Bhi Hain Alabele
Kahin Diwaali Ki Jagamag Hai, Holi Ke Kahin Mele
Holi Ke Kahin Mele
Yahaan Raagarng Aur Hnsi Khushi Ka Chaaron Or Hai Ghera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera

Jahaan Daal-Daal Par Sone Ki Chidiyaan Karati Hai Basera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera

Jahaan Asamaan Se Baaten Karate Mndir Aur Shiwaale
Kisi Nagar Men Kisi Dwaar Par Koi N Taala Daale
Koi N Taala Daale
Aur Prem Ki Bnsi Jahaan Bajaata Aye Shaam Sawera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera

Jahaan Saty, Ahinsa Aur Dharm Ka Pag-Pag Lagata Dera
Wo Bhaarat Desh Hai Mera, Wo Bhaarat Desh Hai Mera
Jay Bhaarati..4

यह भी पढ़ें —-

Ye Tiranga Umar Bhar Kashmir Per Laherayega Lyrics
Ye Desh Hai Veer Jawano Ka Song Lyrics
Aye Mere Watan Ke Logo lyrics
Aye Watan Aye Watan Lyrics
Hai Preet Jahan Ki Reet Sada Lyrics