Homeकहानियां

पंचायत का फैसला – Hindi Story

पंचायत का फैसला – Hindi Story
Like Tweet Pin it Share Share Email

पंचायत का फैसला

एक मुर्गा जंगल में एक वृक्ष के नीचे चुग्गा चुग रहा था | तभी वहा एक धूर्त सियार आ गया | उसे देखते ही मुर्गा उड़कर पेड़ पर बैठा गया|

सियार ने मन – ही -मन सोचा ,’कितना हस्त फुस्ट और गोल -मटोल मुर्गा है | अगर आज इसको लजीज़ मांस खाने को मिले तो…..|’

पर मुश्किल यह थी की वह पेड़ पर चढ़ नहीं सकता था| वह किसी युक्ति से मुर्गे को नीचे उतरना चाहता था|

अतः पेड़ के नीचे आकर बड़े ही मीठे स्वर में वह बोला, “मुर्गा भाई ! तुम्हारे लिए एक खुशखबरी है| कल जंगल में सभी जानवरो की पंचायत हुई थी और उसमे यह फैसला लिया गया है की आज से सभी पक्षी -पक्षी मिल -जुलकर रहेंगे| अब वे कभी एक दूसरे को नहीं मारेंगे| सियार भी अब मुगरे-मुर्गियों को नहीं खायेगे| इसलिए तुम्हें मुझसे डरने की जरुरत नहीं है| नीचे आ जाओ| हम लोग बैठकर आपस में बात करेंगे|”

“मगर मुझे तो ऐसी कोई ख़बर नहीं है|” मुर्गे ने कहा |

“अरे मुर्गे भाई! तुम आते – जाते तो हो नहीं , तुम्हें भला दिन – दुनिया की कैसे ख़बर हो सकती है | तुम मेरा विश्वास करो| कल रात सचमुच में ऐसा फैसला हो चुका है|”

धूर्त सियार ने झूठी कसम खा ली|

मुर्गा उसकी चालाकी समझ गया की यह दुस्ट साफ -साफ झूठ बोल रहा है | वास्तव में ऐसा कुछ भी जंगल में नहीं हुआ है| तभी उसकी नजर कुछ शिकारी कुत्तो पर पड़ी जो उसी दिशा में भागे आ रहे थे |उसने सोचा की इसके सच झूठ का अभी फैसला हो जायेगा| वह बोला- “वाह-वाह | यह तो तुमने बड़ी अच्छी ख़बर सुनाई| वह देखो, उधर तुम्हारे कुछ दोस्त भी तुमसे मिलने के लिए आ रहे है| जाओ, पहले उनका स्वागत करो |”

“मेरे दोस्त !” सियार ने आश्चर्य से कहा, “मेरे कौन से दोस्त आ रहे है ? ”

“वही, शिकारी कुत्ते !” मुर्गे ने मुस्कराते हुए कहा |

शिकारी कुत्तो का नाम सुनते ही सियार भय से कापने लगा|

उसने भागने के लिए जोर से छलांग लगाई |

मुर्गे ने कहा, “तुम उनसे क्यों घबरा रहे हो ? पंचायत में फैसला हो गया न की अब हम आपस में दोस्त बन गए है ?”

“हां, हां यह बात तो है ! ” सियार ने कहा, “पर इन कुत्तो को तो तुम्हारी तरह अभी शायद इस बात का पता नहीं होगा|” यह कहकर सियार शिकारी के कुत्तो से डर से सरपट भाग खड़ा हुआ |

यह भी देखें :

दुनिया के हर बेटें को यह कहानी जरुर पढनी चाहिये
मेहनत का फल हमेशा मीठा होता हैं
नाम में क्या रखा है
चतुर चुन्नू Story of a Clever Boy
मेमने की चतुराई
The List of Fools- मुर्ख लोगों की सूची Akbar Birbal Stories in Hindi